Menu
  • News paper
  • Video
  • Audio
  • CONTACT US
  • मुनि विमल सागर जी    11 April 2018 7:06 PM

    संयमी को वंदन, भावभीने अभिनंदन

    परम श्रद्धेय, निःस्पृह महाश्रमण, चारित्र निष्ठ, ज्ञानपुंज, आचार्य श्री अजयसागरसूरीश्वरजी महाराज साहब का भी आज कल्याणकारी 37 वां दीक्षा दिवस है.

    ◆ 36 वर्ष पूर्व आज के ही दिन उनकी और आचार्य श्री विमलसागरसूरीश्वरजी महाराज साहब की दीक्षा साथ-साथ हुई थीं.

    ◆ दोनों पूज्यवर, परम उपकारी, भवोदधितारक गुरुदेव, राष्ट्रसंत आचार्य भगवंत श्री पद्मसागरसूरीश्वरजी महाराज साहब का शिष्यत्व स्वीकार करते हुए संयम पथ पर आगे बढ़े थे. 

    ◆ संयम ग्रहण के पूर्व दोनों गुरुदेवों ने समग्र भारत के जैन तीर्थों की 40 दिवसीय यात्रा भी साथ-साथ की थीं.

    ◆ सौभाग्य से दोनों भगवंतों की आचार्य पदस्थापना भी पूज्य गुरुदेव के करकमलों से नाकोड़ा तीर्थ में साथ-साथ सम्पन हुई.


    STAY CONNECTED

    FACEBOOK
    TWITTER
    YOUTUBE