Menu
  • News paper
  • Video
  • Audio
  • CONTACT US
  • प्रीति शाह    02 October 2017 7:54 PM

    श्री कलिकुण्ड तीर्थ में ४ दिसम्बर २०१७ को संयम पथ पर अग्रसर होने जा रहा है

    आहोर निवासी आदि सुपुत्र श्री दिलीपजी कांतिलालजी (के.के.संघवी) संघवी, उम्र १३ वर्ष, पूज्य आ श्री जयानंद सूरीश्वरजी की शुभ निश्रा में श्री कलिकुण्ड तीर्थ में ४ दिसम्बर २०१७ को संयम पथ पर अग्रसर होने जा रहा है। इस पुण्यशाली बालक ने आहोर में 2014 में उपधान तप की आराधना की थी। इतनी छोटी उम्र में सर्व विरति (दीक्षा)के भाव आना अत्यंत ही दुर्लभ बात है, और जिन शासन इसका जीता जागता उदाहरण है कि अल्प उम्र में दीक्षा लेनेवालों ने जिन शासन का नाम खूब रोशन किया है। ये ही अनगार आगे चलकर जिनशासन के जाज्वल्यमान शनगार होंगे।
    इनके गौरवशाली परिवार ने ३२५ यात्रियों का आहोर से पालीताना के छः री पालित संघ का आयोजन किया था, और ५७० यात्रिकों को आपने ट्रैन से पालीताना की यात्रा करवाई थी।ठाणे के निकट ही मानपाड़ा तीर्थ में इन्होंने स्वद्रव्य से श्री शांतिनाथ भगवान के मंदिर का निर्माण करवाया था। आहोर के श्री मुक्ति विहार में आपके परिवार ने भगवान श्री सुमतिनाथ एवं दादा गुरुदेव श्री राजेंद्रसूरीजी के बिम्ब भरवाने का अनुपम लाभ लिया था। आपका परिवार गत २४ वर्षों से ठाणे से मानपाड़ा शान्तिधाम की निर्बाध रूप से यात्रा का प्रायोजन कर रहा है, और २५ वीं वर्षगांठ शानदार तरीके से दि.२९.१.२०१८ को मनाने की तैयारियां जोर शोर से चल रही है। उससे पहले आपके परिवार ने श्री मानपाड़ा तीर्थ में दि २५.१२.२०१७ को गुरु सप्तमी के मेले के आयोजन का लाभ लिया है। आपके परिवार से श्री जे के संघवी अखिल भारतीय राजेन्द्र परिषद के मुखपत्र "शाश्वत धर्म"के कई वर्षों तक मानद संपादक भी रह चुके हैं। आपके यशस्वी परिवार की उपलब्धियों में ये दीक्षा का कार्यक्रम यश कलंगी सा शोभायमान होगा।
    चेन्नई में दि 2.10.17 को श्री आहोर जैन प्रवासी संघ, चेन्नई द्वारा इस संयम पंथी बालक का शानदार बहुमान एवं अभिनंदन का कार्यक्रम रखा गया है। आहोर की पुण्य धरा से ये ८८ वा दीक्षार्थी होगा। हम इसके निष्कंटक संयम जीवन की हार्दिक शुभकामनाएं अर्पित जार अपने आप को गौरवान्वित महसूस करते हैं।


    STAY CONNECTED

    FACEBOOK
    TWITTER
    YOUTUBE